• Brihat Horoscope
  • Ask A Question
  • Child Report 2020
  • Raj Yoga Report
  • Career Counseling
Personalized
Horoscope

गुरु गोचर 2022: बृहस्पति गोचर 2022 राशिफल | Jupiter Transit 2022 In Hindi

Last Updated: 9/20/2021 2:47:44 PM

एस्ट्रोकैंप द्वारा गुरु गोचर 2022-बृहस्पति गोचर 2022 में आपको गुरु बृहस्पति ग्रह की गोचर चाल और सभी 12 राशियों के जातकों के जीवन पर इस गोचर का क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है, इसकी जानकारी प्राप्त होगी। आइए वैदिक ज्योतिष पर आधारित 2022 गुरु गोचर के प्रभावों के बारे में जानते हैं, साथ ही कमज़ोर बृहस्पति से बचने के सटीक उपायों के बारे में भी जानकारी हासिल करते हैं।

दुनियाभर के विद्वान ज्योतिषियों से करें फ़ोन पर बात और जानें क्या लाया है नया साल आपके लिए!

गुरु ग्रह, जिसको बृहस्पति भी कहा जाता है, को सूर्य के चारों ओर परिक्रमा करने वाले सभी नौ ग्रहों में से पांचवां ग्रह माना जाता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार गुरु ग्रह का स्वामित्व भगवान विष्णु को प्राप्त है इसलिए, यह जातकों के जीवन में भाग्य, स्वास्थ्य और धन से संबंधित होता है। साथ ही, यह ग्रह जातकों के जीवन में लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए रचनात्मकता, उच्च ज्ञान में रुचि, ध्यान और दृढ़ संकल्प लाता है। इसके अलावा बृहस्पति का प्रभाव जातकों को आध्यात्मिकता की ओर भी ले जाता है यानी कि बृहस्पति ग्रह जातकों के अंदर सात्विक गुणों का विकास भी करता है। बृहस्पति को तर्क के ग्रह के रूप में भी वर्णित किया गया है।

गुरु की आपकी कुंडली में मजबूत स्थिति जातकों अंदर कुछ ऐसी नैतिकताओं को लाती है, जिनकी सराहना पूरी दुनिया के द्वारा की जा सकती है जैसे कि माता-पिता से सम्मान, शैक्षणिक उत्कृष्टता, व्यावहारिकता, ज्ञान और साहस इत्यादि। गुरु धनु और मीन राशि का स्वामी होता है। इसे हिन्दी में गुरु के नाम से भी जाना जाता है। गुरु का अनुकूल प्रभाव जातक को धन्य, भाग्यशाली, आध्यात्मिक और उदार बनाता है। यह ग्रह सीखने और सिखाने का कारक ग्रह है। इस ग्रह को अपार ज्ञान का ग्रह भी कहा जाता है।

जब गुरु किसी जातक की कुण्डली में कमज़ोर अवस्था में होता है तो वह जातक को निराशावाद, अवसाद, थकावट जैसी भावनाओं की ओर ले जाता है। गुरु का रत्न पुखराज होता है। इसके अलावा, गुरु ग्रह सभी हानिकर ग्रहों के नकारात्मक प्रभावों को कम करने की शक्ति रखता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार गुरु ग्रह एक महिला के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि कुंडली में मजबूत गुरु महिला को एक स्थिर और सुखी वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद प्रदान करता है।

गुरु गोचर 2022 तिथि

गुरु ग्रह 12 अप्रैल 2022 तक कुंभ राशि में गोचर करेगा। 13 अप्रैल 2022 को शाम करीब 4:58 बजे मीन राशि में गोचर करेगा। आइए राशिफल 2022 के अनुसार वर्ष 2022 के लिए गुरु का कुंभ और मीन राशि में गोचर के बारे में जानते हैं। साथ ही जानते हैं कि बृहस्पति गोचर 2022 का सभी राशियों पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है।

Read in English: Jupiter Transit 2022

गुरु गोचर 2022: मेष

मेष राशि के जातकों के लिए गुरु नौवें और बारहवें भाव का स्वामी है। मेष राशि के जातकों के लिए वर्ष की शुरुआत में 12 अप्रैल 2022 तक गुरु ग्यारहवें भाव में स्थित रहेगा। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से, गुरु के इस गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य अच्छा रहने की संभावना है। यदि आप किसी छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्या से ग्रसित हैं तो बृहस्पति गोचर 2022 के अगले चरण में आपको उससे राहत मिल सकती है। हालांकि, गुरु गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार परिवारिक और आर्थिक दृष्टिकोण से आपको इस वर्ष की शुरुआत के दौरान कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा पेशेवर मोर्चे पर आप पूरी तरह से काम करने में सक्षम रह सकते हैं।

इसके बाद बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को मीन राशि में प्रवेश करेगा। मेष राशि के जातकों के लिए बृहस्पति इस वर्ष बारहवें भाव में गोचर करेगा। जो कि विदेश यात्रा, अध्यात्मवाद और ख़र्च की ओर इशारा करता है। इस दौरान यदि मेष राशि के जातक किसी विदेश यात्रा की योजना बना रहे हैं तो उनकी यह मनोकामना कुछ खर्चों के साथ पूरी हो सकती है। यह अवधि उन छात्रों के लिए अनुकूल साबित हो सकती है, जो उच्च शिक्षा की योजना बना रहे हैं, जिसमें उन्हें सफलता मिलने की उज्ज्वल संभावना है। बारहवें भाव से बृहस्पति की दृष्टि आपके चौथे भाव पर होगी इसलिए यदि आप इस दौरान कोई नई संपत्ति या वाहन ख़रीदने की योजना बना रहे हैं तो यह समय आपके लिए अच्छा हो सकता है। जो जातक अपने पैतृक स्थान से बहुत दूर रहते हैं, इस अवधि में उनके घर वापस आने की संभावनाएं हैं। इसके बाद आपके छठे भाव पर बृहस्पति की दृष्टि, आपको ऐसी किसी स्थिति में डाल सकती है, जहां आपको कुछ कर्ज़ लेना पड़ सकता है। इस दौरान आपको किसी छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्या का सामना करना पड़ सकता है। बृहस्पति गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार अंत में बृहस्पति की दृष्टि आपके आठवें भाव पर होने से आप उन सभी बाधाओं को दूर करने में सक्षम हो सकते हैं, जो आपकी प्रगति के मार्ग पर रुकावट डालने का प्रयास कर सकती हैं। साथ ही, इस दौरान आपको विरासत के रूप में बहुत सारी संपत्ति या धन प्राप्त हो सकता है।

उपाय: भगवान शिव, भगवान बृहस्पति, केले के पेड़ और भगवान विष्णु की पूजा करें

गुरु गोचर 2022: वृषभ

वृषभ राशि के जातकों के लिए गुरु आठवें और ग्यारहवें भाव का स्वामी है और गुरु गोचर 2022 तिथियों के अनुसार, इस वर्ष की शुरुआत में 12 अप्रैल 2022 तक गुरु आपके दसवें भाव में गोचर कर रहा है। परिणामस्वरूप, यह अवधि वृषभ राशि के जातकों के लिए एक शुभ अवधि होगी क्योंकि पेशेवर रूप से आप अपने मनचाहे लक्ष्यों और अवसरों को प्राप्त कर सकते हैं। वहीं, जो जातक व्यापार करने की योजना बना रहे हैं या किसी परियोजना में निवेश करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें अपनी योजनाओं को कुछ समय के लिए रोक कर रखने की सलाह दी जाती है। जो जातक किसी प्रेम संबंध में हैं, उन्हें इस दौरान अपने रिश्ते को अच्छा बनाए रखने के लिए किसी बहस में शामिल होने से बचने की सलाह दी जाती है। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से, इस अवधि में आपको मौसम बदलने के कारण कुछ मामूली स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि जंक फ़ूड और बाहर का खाना खाने से बचें अन्यथा, आपको पाचन संबंधी कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

बृहस्पति गोचर 2022 के अनुसार इसके बाद गुरु 13 अप्रैल 2022 को मीन राशि के ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। जो कि विभिन्न स्रोतों से लाभ और कुछ बाधाओं के साथ आपकी आय में वृद्धि होने का संकेत देता है। इस गोचर के दौरान आपको अपने बड़ों से जैसे कि बड़े भाई, चाचा आदि से सहयोग मिल सकता है। इस अवधि में आपकी आय और ख़र्च संतोषजनक रहने की संभावना है। इसके बाद आपके तीसरे भाव पर गुरु की दृष्टि, आपको अधिक साहस और ऊर्जा प्रदान कर सकती है और इस दौरान आप अपने मित्रों और परिवार से हर तरह का सहयोग प्राप्त कर सकते हैं। पांचवें भाव पर गुरु की दृष्टि होने से छात्र जातकों की अपनी पढ़ाई में रुचि बढ़े सकती है और वे इस अवधि में अपनी रुचि के क्षेत्र में शिक्षा भी प्राप्त कर सकते हैं। जो विवाहित जोड़े संतान की योजना बना रहे हैं, उन्हें इस दौरान संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। अंत में, सातवें भाव पर गुरु की दृष्टि एकल जीवन व्यतीत कर रहे जातकों के लिए अनुकूल हो सकती है क्योंकि इस अवधि के दौरान उन्हें अपना जीवनसाथी मिल सकता है और वहीं जो जातक साझेदारी में व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें भी इस दौरान अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय: गुरु को प्रसन्न करने के लिए श्री रुद्रम, गुरु स्तोत्र का पाठ करें

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

गुरु गोचर 2022: मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए गुरु सातवें और दसवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में यह आपके नौवें भाव में गोचर कर रहा है। परिणामस्वरूप, यह गोचर मिथुन राशि के जातकों के लिए करियर और आर्थिक क्षेत्र में सफलता ला सकता है। जो छात्र सरकारी नौकरी की परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए भी यह अवधि अनुकूल रहने की संभावना है। इस दौरान पेशेवर रूप से मार्केटिंग क्षेत्र में कार्यरत जातक अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के में सफलता हासिल कर सकते हैं और वहीं चिकित्सा पेशेवर अपने करियर में नई ऊंचाइयों को प्राप्त कर सकते हैं। संबंध के दृष्टिकोण से, जो जातक पहले से किसी रिश्ते में हैं, उनके लिए यह अवधि अनुकूल है और वहीं जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं या अविवाहित हैं, उन्हें इस दौरान विवाह के अच्छे प्रस्ताव मिलने की संभावना है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, यह अवधि जातकों के लिए अच्छे स्वास्थ्य का संकेत देती है। हालांकि, किसी भी बीमारी से ख़ुद को बचाने के लिए घर पर बना खाना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है।

गुरु गोचर 2022 राशिफल के अनुसार इसके बाद शेष वर्ष के लिए गुरु बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को आपके दसवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं या एक नया व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें इसमें सफलता हासिल हो सकती है, साथ ही पदोन्नति और आय में वृद्धि की भी संभावना है। जो जातक इस दौरान नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं, उनके लिए यह अवधि अनुकूल रह सकती है। इसके बाद गुरु बृहस्पति की आपके दूसरे भाव में दृष्टि आपको अपनी संपत्ति को बढ़ाने और एक अच्छी बचत करने में मदद सकती है। फिर आपके चौथे भाव पर गुरु की दृष्टि आपके पारिवारिक जीवन में सुख लेकर आ सकती है और आप इस दौरान कोई नई संपत्ति या नया वाहन ख़रीद सकते हैं। अंत में आपके छठे भाव पर बृहस्पति की दृष्टि होने से आप अपने विरोधियों पर विजय पाने में सक्षम हो सकते हैं और यदि आपने किसी ऋण के लिए आवेदन किया हुआ है तो इस दौरान मंज़ूरी मिलने की संभावना है। साथ ही, आपको पुराने किसी ऋण और किसी पुरानी बीमारी से भी मुक्ति मिल सकती है।

उपाय: गुरु बीज मंत्र ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम: का प्रतिदिन जाप करें।

गुरु गोचर 2022: कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए बृहस्पति छठे और नौवें भाव का स्वामी है। इस वर्ष की शुरुआत में बृहस्पति आपके आठवें भाव यानी कि आकस्मिक धन लाभ, पैतृक संपत्ति और आकस्मिक परिवर्तन के भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, पेशेवर रूप से, आपको अपने करियर में उल्लेखनीय प्रगति करने का मौका मिल सकता है। जो जातक इस दौरान नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें नौकरी के कुछ अच्छे अवसर मिल सकते हैं। यदि आप किसी परियोजना में निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो आपको किसी आर्थिक सलाहकार से बात करने की सलाह दी जाती है। जो जातक वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे हैं, वे इस दौरान अपने जीवनसाथी के साथ एक अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। साथ ही, आपके संबंध अपने भाई-बहनों से और चचेरे भाई-बहनों से अच्छे रह सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से, इस अवधि में आपको कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, इसके लिए आपको स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुसार रहने की सलाह दी जाती है। इस दौरान आपको पेट दर्द या सीने में दर्द और पीठ से जुड़ी किसी छोटी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

इसके बाद बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को मीन राशि के नौवें भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, इस दौरान जो जातक सरकार से किसी समर्थन या सहयोग की उम्मीद कर रहे हैं, उनके लिए यह अवधि काफ़ी भाग्यशाली साबित हो सकती है। इस अवधि के दौरान आप किसी लंबी दूरी की यात्रा या विदेश यात्रा पर भी जा सकते हैं। इस दौरान आपका झुकाव आध्यात्मिकता की ओर हो सकता है और ईश्वर में आपकी आस्था बढ़ सकती है। इस अवधि में आपके पिता को आर्थिक लाभ होने की संभावना है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके पहले भाव यानी कि व्यक्तित्व के भाव पर होगी। इस दौरान आप एक आरामदायक और अच्छे स्वास्थ्य से पूर्ण जीवन व्यतीत कर सकते हैं। इस दौरान बृहस्पति की दृष्टि आपके तीसरे भाव पर भी होगी, जिसमें आपको चारों तरफ़ से खुशियाँ और अपने भाई-बहनों से सहयोग प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आपके बातचीत करने के कौशल में भी सुधार हो सकता है। इस अवधि में आप दृढ़ संकल्प और साहस की मदद से अपने सभी लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं। अंत में, आपके पांचवें भाव पर बृहस्पति की दृष्टि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्र जातकों को सभी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता दिला सकती है। गुरु गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार आपको इस दौरान संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। आर्थिक दृष्टिकोण से, आपको इस अवधि में सट्टा बाज़ार (शेयर मार्केट, स्टॉक मार्केट) की गतिविधियों से लाभ प्राप्त होने की संभावना है। स्वास्थ्य के लिहाज से यह अवधि आपके बच्चों के लिए अनुकूल रह सकती है। यदि आप किसी रिश्ते में हैं तो यह समय आपके लिए सौहार्दपूर्ण साबित हो सकता है।

उपाय: दान-पुण्य करें। गुरुवार के दिन ग़रीबों को केसर या हल्दी, चना दाल और पीला कपड़ा दान करें।

क्या आपकी कुंडली में हैं शुभ योग? जानने के लिए अभी खरीदें बृहत् कुंडली

गुरु गोचर 2022: सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए गुरु पांचवें और आठवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में गुरु बृहस्पति आपके सातवें भाव यानी कि विवाह और साझेदारी के भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, इस अवधि में आप अपने प्रयास और काम में निरंतरता के कारण अपने लक्ष्य को पूरा करने में सफलता हासिल कर सकते हैं। इस दौरान यदि आप शेयर बाज़ार में निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो यह समय आपके लिए उचित न रहने की आशंका है। साथ ही, यदि आप कोई महत्वपूर्ण निवेश करने जा रहे हैं तो आपको यह सलाह दी जाती है कि निवेश करने से पहले कई बार अच्छे से विचार कर लें। रिश्तों के लिहाज से इस अवधि में आपको अनुकूल परिणाम मिलने की संभावना है। विवाहित जोड़ों को तर्क-वितर्क या किसी प्रकार की से बचने और रिश्ते में मजबूती लाने की सलाह दी जाती है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, आपको इस दौरान कुछ छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, आप पूरे गोचर काल के दौरान सामान्य स्वास्थ्य का अनुभव सकते हैं।

इसके बाद बृहस्पति मीन राशि के आठवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में सिंह राशि के जातकों को बीमा, पैतृक संपत्ति आदि से आर्थिक लाभ होने की संभावना है। यह गोचर आपके स्वास्थ्य के लिहाज से अनुकूल रह सकता है। आपकी लंबी उम्र के लिए गोचर काफ़ी अनुकूल हो सकता है। इस दौरान आपकी दिनचर्या आपके जीवन में काफ़ी प्रभावशाली रह सकती है। इस अवधि में हाल-फिलहाल में माता बनी महिला जातकों को अपना और अपने बच्चे का विशेष रूप से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। जो जातक संतान की उम्मीद कर रहे हैं या उसके लिए योजना बना रहे हैं, उन्हें इस दौरान कुछ कठिनाइयों और बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। छात्र जातकों को इस दौरान अपनी पढ़ाई में अधिक प्रयास करने की आवश्यकता है अन्यथा आपके परिणाम प्रभावित हो सकते हैं। इसके बाद बारहवें भाव यानी कि व्यय भाव पर गुरु की दृष्टि रहने की वजह से आपके खर्चों में वृद्धि हो सकती है। हालांकि, इस दौरान आपको विदेश से धन प्राप्त होने के भी योग बन रहे हैं अर्थात आपके लिए विदेश व्यापार फलदायी सिद्ध हो सकता है। बृहस्पति की दृष्टि आपके दूसरे भाव पर होगी, इस दौरान आपकी धन संचय करने की प्रवृत्ति में वृद्धि हो सकती है और इसके लिए आप लगातार कोशिश करते नज़र आ सकते हैं। इस दौरान आपका पारिवारिक जीवन औसत रहने की संभावना है। अंत में गुरु बृहस्पति की दृष्टि आपके चौथे भाव पर होगी। इस अवधि में आपको अपनी माँ के स्वास्थ्य का विशेष रूप से ख़्याल रखने की सलाह दी जाती है। इस दौरान यदि आप कोई नई संपत्ति ख़रीदने की योजना बना रहे हैं या पुरानी संपत्ति को बेचना चाह रहे हैं तो यह अवधि आपके लिए अच्छी न रहने की आशंका है। इसके लिए आपको सलाह दी जाती है कि फिलहाल के लिए ऐसी योजनाओं को स्थगित करें और अनुकूल समय का इंतज़ार करें।

उपाय: गुरुवार के दिन व्रत रखें और अधिक से अधिक लाभ पाने के लिए व्रत में किसी भी प्रकार के नमक का सेवन करने से परहेज करें।

गुरु गोचर 2022: कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए गुरु चौथे और सातवें भाव का स्वामी है। इस वर्ष गुरु बृहस्पति आपके छठे भाव में यानी कि ऋण, शत्रु और दैनिक मजदूरी के भाव में गोचर कर रहा है। इस दौरान जो पेशेवर जातक नौकरी बदलने के लिए इस्तीफ़ा देने की योजना बना रहे हैं, उन्हें अपनी नौकरी से इस्तीफ़ा न देने की सलाह दी जाती है क्योंकि आप इस अवधि में वंचित अवसर प्राप्त करने में असफल हो सकते हैं। जो जातक किसी लंबी अवधि के निवेश की योजना बना रहे हैं, उन्हें इस दौरान सही ढंग से जांच-पड़ताल करके निवेश करना चाहिए। विवाहित जातकों को इस अवधि में अपने जीवनसाथी से पूरा सहयोग मिल सकता है। इस दौरान आपका अपने माता-पिता के साथ कुछ विवाद होने की आशंका है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, इस दौरान आप कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर सकते हैं। आपको अपने स्वास्थ्य पर उचित ध्यान देने की ज़रूरत है। इस दौरान आपको खट्टी डकार, जुकाम आदि का सामना करना पड़ सकता है।

इसके बाद बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को आपके सातवें भाव यानी कि विवाह और साझेदारी के भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, जो लोग विवाह के लिए सही साथी की तलाश कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान विवाह के लिए अच्छे प्रस्ताव मिलने की संभावना है। विवाहित जातकों के संबंध इस दौरान अपने जीवनसाथी के साथ बहुत सौहार्दपूर्ण हो सकते हैं। जो जातक किसी साझेदारी के उद्यम में प्रवेश करना चाहते हैं, उनके लिए यह समय अनुकूल साबित हो सकता है। इस दौरान आपको माँ से संपत्ति या ज़मीन के रूप में सहयोग प्राप्त हो सकता है। चूंकि आपके इस भाव से बृहस्पति की दृष्टि आपके ग्यारहवें भाव पर है इसलिए इस अवधि के दौरान आपको कई लाभ प्राप्त हो सकते हैं और आपको अपने बड़े भाई का भी पूरा सहयोग मिल सकता है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके पहले भाव पर होगी। इस गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य बेहतर रहने की संभावना है। आपके चेहरे पर अतिरिक्त आकर्षण हो सकता है और आप अपने दोस्तों बीच काफ़ी अच्छी स्थिति में हो सकते हैं और उन पर अपनी छाप छोड़ने में सक्षम हो सकते हैं। अंत में, बृहस्पति की दृष्टि आपके तीसरे भाव पर होगी। इस दौरान आपको अपने भाई-बहनों से सहयोग प्राप्त हो सकता है। इस दौरान आप अधिक साहसी और निर्भीक हो सकते हैं। साथ ही, आप अपने बीतचीत के कौशल से सभी को प्रभावित करने में सक्षम हो सकते हैं।

उपाय: भगवान बृहस्पति को प्रसन्न करने के लिए पूजा और रुद्राभिषेक करें।

गुरु गोचर 2022: तुला

तुला राशि के जातकों के लिए गुरु बृहस्पति तीसरे और छठे भाव का स्वामी है और यह इस वर्ष की शुरुआत में आपके पांचवें भाव यानी कि शिक्षा, प्रेम और रोमांस के भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको अपने करियर में किसी काम को पूरा करने के लिए बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। साथ ही, आपको बहुत अधिक यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं। जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं, इस दौरान उनके प्रयास व्यर्थ हो सकते हैं लेकिन यदि वे लगातार प्रयास करते रहेंगे तो सफलता मिलने की संभावना है। इस गोचर के दौरान जो जातक सट्टा बाज़ार (शेयर मार्केट, स्टॉक मार्केट) में निवेश की योजना बना रहे हैं तो उनके लिए यह समय अनुकूल नहीं हो सकता है। संबंधों के लिहाज से यह अवधि आपके लिए अनुकूल न रहने की आशंका है। आपको सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखने के लिए बहुत सारे विचार करने पड़ सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी गुरु गोचर की यह अवधि बहुत अनुकूल नहीं रह सकती है इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति अधिक जागरूक रहने की सलाह दी जाती है। इसके लिए आप अच्छी नींद लें, संतुलित आहार लें। जो महिला जातक इस दौरान गर्भवती हैं, उन्हें ख़ुद को हाइड्रेट रखने के लिए ढेर सारे तरल पदार्थ पीने की सलाह दी जाती है।

इसके बाद बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को आपके छठे भाव यानी कि दैनिक मजदूरी और शत्रु के भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, जो जातक कानूनी और चिकित्सा पेशे से जुड़े हैं, उन्हें इस दौरान अनुकूल परिणाम देखने को मिल सकते हैं। जो जातक बड़ी मात्रा में ऋण की स्वीकृति का इंतज़ार कर रहे हैं, उन्हें इसमें सफलता मिल सकती है और आपको इसमें मदद भी मिल सकती है। इस दौरान आपके परिवार में कोई मांगलिक कार्यक्रम भी हो सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको यह सलाह दी जाती है कि सड़क पर पैदल चलते समय या वाहन चलते समय सतर्क रहें क्योंकि इस दौरान आपको किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके दसवें भाव पर होगी, जिसमें कड़ी मेहनत और ईमानदारी के साथ आप अपनी आय में वृद्धि प्राप्त करने में सफल हो सकते हैं। कोई भी ऐसी परियोजना जिसमें सरकार की भागीदारी है और उसमें अभी तक आप विफल हो रहे हैं तो इस अवधि में आपको उसमें सफलता हासिल हो सकती है। इस दौरान आपके बारहवें भाव पर बृहस्पति की दृष्टि कुछ ख़र्च और विदेश व्यापार को भी दर्शाती है। साथ ही, गुरु की दृष्टि आपके दूसरे भाव पर भी होगी और इस दौरान आप धन संचय करने में सफल हो सकते हैं। इस दौरान आपके परिवार के सदस्यों के बीच मामूली विवाद हो सकते हैं। सही दिशा में किए गए प्रयासों से आप अपने जीवन में आगे बढ़ सकते हैं।

उपाय: माथे पर केसर/हल्दी का तिलक लगाएं, पीपल के पेड़ की पूजा करें, दोपहर या रात्रि के भोजन के समय जूते-चप्पल पहनने से परहेज करें।

गुरु गोचर 2022: वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए बृहस्पति दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में गुरु आपके चौथे भाव यानी कि विलासिता, आराम और माता के भाव में गोचर करेगा। इस दौरान जो जातक पढ़ाई के लिए विदेश जाने की योजना बना रहे हैं, उन्हें अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं। पेशेवर जातकों को अपने काम में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, जो कि उनके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है। जो जातक किसी परियोजना में निवेश करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें इस दौरान किसी आर्थिक सलाहकार से उचित सलाह लेने के बाद ही निवेश करना चाहिए। जो जातक साझेदारी में व्यवसाय कर रहे हैं, उन्हें इस अवधि में लाभ होने की संभावना है। जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, उनके जीवन में प्रतिबद्धता आ सकती है। साथ ही, उन्हें विवाह के लिए थोड़ा इंतज़ार करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, इस दौरान पुरुष जातकों को कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं जैसे गैस, एसिडिटी या मोटापा आदि की समस्या हो सकती है। वहीं, महिला जातकों को पाचन संबंधी कुछ परेशानी महसूस हो सकती है।

इसके बाद बृहस्पति आपके पांचवें भाव यानी कि प्रेम, रोमांस और सट्टा आदि के भाव में गोचर करेगा। जो जातक अपनी पढ़ाई को लेकर संघर्षरत हैं, वे अपनी पढ़ाई में बहुत अच्छा प्रदर्शन करना शुरू कर सकते हैं क्योंकि इस दौरान आपका ध्यान अपनी पढ़ाई की ओर केन्द्रित रह सकता है। बृहस्पति गोचर 2022 के अनुसार, फ़िल्म और मीडिया क्षेत्र में काम करने वाले जातकों को इस अवधि के दौरान अनुकूल परिणाम प्राप्त होने की संभावना है। संतान के जन्म की प्रतीक्षा कर रहे दंपतियों को इस दौरान सुंदर और स्वस्थ संतान की प्राप्ति के योग बन रहे हैं। आर्थिक दृष्टिकोण से भी यह समय आपके लिए अनुकूल रह सकता है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके नौवें भाव पर होगी और यह समय आपके लिए बहुत ही भाग्यशाली साबित हो सकता है। इस दौरान आपको विभिन्न स्रोतों से धन लाभ हो सकता है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके ग्यारहवें भाव पर भी होगी, इस अवधि में आपको सामाजिक संपर्क बनाने में मदद सकती है और यह समय आपके बड़े भाई-बहन के लिए भाग्यशाली साबित हो सकता है। इसके बाद आपके पहले भाव में गुरु की दृष्टि, आपके लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आ सकती है और आप इस दौरान ख़ुद को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत महसूस कर सकते हैं। साथ ही, आपको इस अवधि के दौरान प्रसिद्धि, सम्मान, धन और सभी भौतिक सुख प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय: अपनी उंगली पर या गले में लॉकेट की तरह कीमती पीला नीलम या अर्द्ध कीमती पीला पुखराज पहनें।

पाएं अपनी कुंडली आधारित सटीक शनि रिपोर्ट

गुरु गोचर 2022: धनु

धनु राशि के जातकों के लिए गुरु पहले और चौथे भाव का स्वामी है और इस वर्ष यह आपके तीसरे भाव यानी कि संचार, भाई-बहन और यात्रा के भाव में गोचर करेगा। इस दौरान पेशेवर छात्रों को अपनी परीक्षा पास करने और अपने करियर की उन्नति के लिए अतिरिक्त मेहनत करने की आवश्यकता हो सकती है। आर्थिक दृष्टिकोण से आपको इस दौरान कोई भी उपयोगी निवेश करते समय सावधान रहने की ज़रूरत है। संबंध के लिहाज से, एकल जीवन व्यतीत कर रहे जातकों को इस दौरान अपने जीवन का प्रेम मिल सकता है और वे अपने रिश्ते को अगले स्तर तक ले जा सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से, आपको अपने और अपने बच्चों के स्वास्थ्य का ख़्याल रखने की ज़रूरत है क्योंकि इस दौरान उन्हें गर्दन में दर्द जैसी समस्या होने की आशंका है।

इसके बाद, बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को आपके चौथे भाव में गोचर करेगा। जो जातक अभी तक कोई संपत्ति ख़रीदने की योजना बना रहे थे और उसमें असफल हो रहे थे, इस दौरान वे संपत्ति ख़रीदने में सक्षम हो सकते हैं। साथ ही, जो जातक अपने पुराने वाहन को बदलने की योजना बना रहे थे, वे इस दौरान अपनी उम्मीद और हैसियत के हिसाब से नया वाहन ख़रीदने में सक्षम हो सकते हैं। इस दौरान आपको अपनी माँ के स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखने की आवश्यकता है। जो एनआरआई (अप्रवासी भारतीय) अपनी मातृभूमि की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, वे ऐसा करने में सक्षम हो सकते हैं और आपके लिए इस अवधि के दौरान एक चक्र में सुविधाओं के साथ कुछ अनावश्यक यात्राएं भी हो सकती हैं। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके दसवें भाव में होगी, जो कि आपके अपने पेशेवर जीवन में सफलता दिला सकती है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपनी नौकरी में किसी भी प्रकार के अनावश्यक जोखिम से बचें। इसके बाद आपके आठवें भाव पर बृहस्पति की दृष्टि, आपकी दीर्घायु के लिए अच्छी साबित हो सकती है और आपको अपने जीवनसाथी की तरफ़ से धन की प्राप्ति होने की संभावना है। अंत में बृहस्पति की दृष्टि आपके बारहवें भाव पर होगी, जो कि आपके ख़र्चों में दिन-प्रतिदिन वृद्धि कर सकती है। साथ ही, इस अवधि में आप एक बड़ी राशि का ख़र्च कर सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने आप को फ़ालतू की गतिविधियों से दूर रखें अन्यथा आपको कुछ नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय: आपको विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ करना चाहिए।

गुरु गोचर 2022: मकर

मकर राशि के जातकों के लिए बृहस्पति तीसरे और बारहवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में यह आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान पेशेवर जातकों को पदोन्नति मिलने की संभावना है। वहीं नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को नया कार्यस्थल मिल सकता है। आर्थिक दृष्टिकोण से इस गोचर के दौरान किसी भी प्रकार का निवेश न करने की सलाह दी जाती है। संबंधों के लिहाज से, मकर राशि के जातकों को इस दौरान अपने संबंधों में कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने दोस्तों और भाई-बहनों के साथ संबंधों को संभालने का प्रयास करें। स्वास्थ्य की दृष्टि से, मकर राशि के जातकों को कुछ छोटी-मोटी समस्याओं और मांसपेशियों में दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

इसके बाद गुरु 13 अप्रैल 2022 को अपनी स्वराशि के तीसरे भाव में गोचर करेगा और इस दौरान आपको अपने छोटे भाई-बहनों का भरपूर सहयोग मिल सकता है। इस अवधि में आपके आत्मविश्वास में वृद्धि हो सकती है। आप छोटी यात्राओं पर जा सकते हैं जो कि आपके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकती हैं। आपके संवाद कौशल में सुधार आने की संभावना है जिसकी वजह से आप इस दौरान कोई नया अनुबंध स्थापित करने में सफल रह सकते हैं जो कि आपके लिए फ़ायदेमंद साबित हो सकता है। मकर राशि के वह जातक जो शिक्षण, रसद और सलाहकार के क्षेत्र से जुड़े हैं, उनके लिए भी यह अवधि अनुकूल रह सकती है। बृहस्पति गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार बृहस्पति आपके सातवें भाव यानी कि कलत्र भाव पर दृष्टि डालेगा जिसकी वजह से मकर राशि वह जातक जो किसी जीवनसाथी की तलाश में हैं, उनकी यह तलाश पूरी हो सकती है। संभावना है कि मकर राशि के जातक इस दौरान उम्मीद से भी बेहतर जीवनसाथी ढूँढने में सफल रह सकते हैं। विदेश से भी विवाह के प्रस्ताव आने की संभावना है। साथ ही, गुरु की दृष्टि आपके नौवें भाव पर भी है, जो कि आपकी तर्क शक्ति को बढ़ा सकता है और इस अवधि के दौरान आपको समृद्ध होने में मदद कर सकता है। इस अवधि में ईश्वर और धार्मिक कार्यों में आपका विश्वास कम रह सकता है। अंत में, आपके ग्यारहवें भाव पर बृहस्पति की दृष्टि आपकी आय को संतोषजनक बना सकती है।

उपाय: पीले रंग का रूमाल हमेशा अपने पास रखने से भी बृहस्पति शांत होता है।

गुरु गोचर 2022: कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए गुरु दूसरे और ग्यारहवें भाव का स्वामी होता है, जो कि मनोकामना और लाभ का स्वामी होता है। वर्ष के शुरुआत में आपके पहले भाव में गुरु की स्थिति आपके स्वास्थ्य के अनुकूल नहीं रह सकती है। सरकारी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को इस अवधि में सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। नौकरीपेशा जातकों को इस अवधि के दौरान अपने वेतन में वृद्धि देखने को मिल सकती है। संबंध के लिहाज से, विवाहित जोड़ों के लिए यह अवधि अनुकूल रह सकती है। वहीं, जो जातक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, उन्हें आने वाले कुछ महीनों में अपना जीवनसाथी मिल सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, कुंभ राशि के उन जातकों को अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है, जो हृदय से जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

बृहस्पति गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार, बृहस्पति 13 अप्रैल, 2022 को आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको आर्थिक लाभ हो सकता है और आपका पारिवारिक जीवन भी ख़ुशहाल रहने की संभावना है। इस दौरान आपके परिवार के सदस्यों में वृद्धि हो सकती है। यदि आपने पूर्व में कोई निवेश किया हुआ है तो इस अवधि में वह आपके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है और आप इस गोचर के दौरान ज़मीन, शेयर, और आभूषण की ख़रीदारी भी कर सकते हैं। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके छठे भाव पर होगी। इस दौरान अपनी आय से पुराने ऋण को चुकाने में सफल हो सकते हैं। साथ ही, इस अवधि में आप अपने शत्रुओं पर हावी रह सकते हैं। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके आठवें भाव पर होगी। इस दौरान आपको किसी स्रोत से अचानक आर्थिक लाभ होने की संभावना है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने खान-पान का ध्यान रखें अन्यथा आपको कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। अंत में, बृहस्पति की दृष्टि आपके दसवें भाव पर होगी। इस दौरान नौकरीपेशा जातकों व व्यवसायियों को नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। यह अवधि आपके लिए बहुत लाभदायक और अनुकूल साबित हो सकती है।

उपाय: किसी धार्मिक स्थान पर लगातार आठ दिनों तक हल्दी का दान करें।

गुरु गोचर 2022: मीन

मीन राशि के जातकों के लिए बृहस्पति पहले और दसवें भाव का स्वामी है और यह आपके बारहवें भाव यानी कि व्यय, विदेशी लाभ और मोक्ष के भाव में गोचर करेगा। इस दौरान व्यवसायी जातकों को आर्थिक लाभ हो सकता है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में मजबूती आ सकती है। इस अवधि में आपका अपने ख़र्चों पर नियंत्रण करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। संबंध के लिहाज से, जो जातक किसी प्रेम संबंध में हैं, वे इस दौरान अपने साथी के प्रति ईमानदार होने के कारण अपने प्रेम जीवन में सामंजस्य बैठने में सक्षम रह सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि आपके साथी के साथ किसी भी प्रकार की बहस करने से बचें। स्वास्थ्य की दृष्टि से, बुजुर्ग और महिला जातकों को पेट दर्द, रक्तचाप और मांसपेशियों में दर्द जैसी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

गुरु गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार इसके बाद, गुरु 13 अप्रैल, 2022 को आपके पहले भाव यानी कि स्वयं और व्यक्तित्व के भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आप अपनी योजनाओं को लेकर काफ़ी बौद्धिक और गुप्त हो सकते हैं जो कि कभी-कभी आपके मन की शांति को भंग कर सकता है। साथ ही, आप उचित विश्लेषण और सोचने-समझने के बाद सही निर्णय लेने में सक्षम हो सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपनी दिनचर्या में योग और ध्यान को शामिल करें, यह आपके लिए बहुत फ़ायदेमंद साबित हो सकता हैं। साथ ही, आपके सहयोगियों और वरिष्ठों के द्वारा आपके काम की सराहना की जा सकती है। इस दौरान जो जातक नौकरी की तलाश कर रहे हैं या बेरोज़गार हैं, उन्हें नौकरी या अवसर को लेकर ज़्यादा परेशान होने की ज़रूरत नहीं है चूंकि समय के साथ स्वतः आपको इसमें सफलता प्राप्त हो सकती है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके पांचवें भाव पर होगी। जो जातक संतान के लिए इंतज़ार कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान पुत्र रत्न प्राप्त होने की संभावना है। इस दौरान कुंभ राशि के जातकों को सट्टा बाज़ार (शेयर मार्केट, स्टॉक मार्केट) से लाभ होने की संभावना है। इस अवधि में छात्रों का झुकाव अपनी पढ़ाई की ओर रह सकता है। इसके बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके सातवें भाव पर होगी। इस दौरान आपको दिन-प्रतिदिन के व्यापार जैसे कि शेयर बाज़ार आदि से लाभ प्राप्त लाभ प्राप्त होने की संभावना है। इस अवधि के दौरान आपका दैनिक जीवन सामान्य रह सकता है। जो जातक जीवनसाथी की तलाश में हैं, उन्हें इस अवधि में अच्छे गुणों और आकर्षक व्यक्तित्व का जीवनसाथी मिलने की संभावना है। वहीं जो लोग प्रेम संबंध में हैं, इस दौरान उनके प्रेम विवाह के अच्छे योग बन रहे हैं लेकिन आपको इसमें बहुत समझदारी से आगे बढ्ने की आवश्यकता है। यहाँ से गुरु की दृष्टि आपके नौवें भाव पर होगी। इस दौरान यदि आप सही दिशा में और सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ कोई भी प्रयास करते हैं तो आपको उसमें सफलता प्राप्त होने की संभावना है। साथ ही, अपने मन को ईश्वर की ओर मोड़ने से आपको अपनी सभी समस्याओं में मदद मिल सकती है।

उपाय: मांस और शराब से परहेज करना भी कुंडली में कमजोर गुरु के हानिकारक प्रभावों को कम करने में मदद करता है।

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इसे अपने अन्य शुभचिंतकों के साथ जरूर साझा करें। धन्यवाद!

More from the section: Horoscope 3349
2020 Articles
Buy Today
Gemstones
Get gemstones Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com More
Yantras
Get yantras Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com More
Navagrah Yantras
Get Navagrah Yantras Yantra to pacify planets and have a happy life .. get from AstroSage.com More
Rudraksha
Get rudraksha Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com More
Today's Horoscope

Get your personalised horoscope based on your sign.

Select your Sign
Free Personalized Horoscope 2021
© Copyright 2021 AstroCAMP.com All Rights Reserved