AstroSage Kundli App Download Now
  • Brihat Horoscope
  • AstroSage Big Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Report
  • Career Counseling

कुंडली मिलान: निःशुल्क जन्मपत्री मिलान

हर शख्स की अपनी एक अलग जन्म कुंडली होती है जिसका प्रयोग उसके जीवन के विभिन्न पक्षों को देखने में तो किया ही जाता है, साथ ही विवाह से पहले होने वाले जोड़ीदार के साथ उसकी संगतता भी इसकी मदद से देखी जाती है। कुंडली मिलान अत्यंत कठिन कार्य माना जाता है और आज के दौर में बहुत कम ही ऐसे पंडित हैं जो सही तरीके से कुंडली मिलान कर पाते हैं। ऐसे में एस्ट्रोसेज आपके लिए कुंडली मिलान कैलकुलेटर लेकर आया है जिसकी मदद से आप आसानी से अपने जोड़ीदार के साथ अपने गुणों का मिलान कर सकते हैं। इस कैलकुलेटर में बस आपको अपने और अपने जीवन साथी के जन्म, जन्म समय और स्थान का विवरण भरना है।

लड़के का जन्म संबंधी विवरण

लड़की का जन्म संबंधी विवरण

कुंडली मिलान का क्या महत्व है

भारत की धरती पर अनेकानेक बुद्धिजीवियों का जन्म हुआ है। इन बुद्धिजीवियों ने जीवन को सरल बनाने एवं जीवन में आने वाली परेशानियों का पहले से ही आकलित करके इन्हें दूर करने के लिए ग्रह, नक्षत्रों की चाल और उनके गुणों को देखते हुए, कुंडली का निर्माण किया। कुंडली की मदद से जातकों के भूत और भविष्य के बारे में भी बताया जा सकता है। इसके साथ ही विवाह में बंधने वाले जातकों की कुंडली को देखकर उनके बीच की संगतता और आने वाले वक्त में उनका भविष्य कैसा होगा इसके बारे में भी कुंडली से जाना जा सकता है। इसीलिए आज भी माता-पिता अपने बच्चों की शादी करने से पहले कुंडली मिलान करवाना ज़रूरी समझते हैं।

कुंडली मिलान की सहायता से हम भावी दंपत्ति के जीवन में अनुकूलता, दोनों के बीच विचारों की समानता, दोनों की भावनात्मक और शारीरिक अनुकूलता और एक दूसरे के प्रति प्रेम की प्रगाढ़ता के बारे में भी जान सकते हैं। इसके साथ ही आप कुंडली मिलान से यह भी जान सकते हैं कि यह रिश्ता कितना टिकेगा और संतान या धन संपदा कैसी रहेगी।

कुंडली देखकर किया जाता है गुण मिलान

वर-वधु की कुंडलियों को देखकर सबसे पहले गुणों का मिलान किया जाता है। विवाह होने की कितनी संभावनाएं हैं यह बात गुणों का प्रतिशत देखकर ही पता चल जाती है। इन गुणों को अष्टकूट गुण कहा जाता है जो इस प्रकार हैं- वर्ण, वश्य, योनि, तारा, ग्रह मैत्री, गण, भकूट और नाड़ी। इन सभी गुणों का कुल योग 36 होता है। वर-वधु के कुंडली मिलान में 36 में से कम से कम 18 गुणों का मिलना महत्वपूर्ण माना जाता है। इन गुणों के मिलान से यह पता लगाया जाता है कि शादी के बंधन में बंधने के बाद वर वधु का स्वास्थ्य, प्रवृत्ति और मानसिक स्थिति कैसी रहेगी। कुंडली मिलान को लेकर कुछ तथ्य नीचे दिये गये हैं।

  • यदि कुंडली मिलान में 18 से कम गुण मिल रहे हैं तो विवाह असफल रह सकता है।
  • यदि 18 से ज्यादा गुण मिल रहे हैं तो विवाह में संगतता रहेगी।
  • यदि 24 से 32 गुण तक मिलते हैं तो विवाह सफल रहेगा।
  • 32 गुणाों का मिलना अति शुभ माना गया है।

क्यों होती है कुंडली मिलान की आवश्यकता

भारत सहित कई देशों में ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गणनाएं की जाती हैं। इन गणनाओं के करने से व्यक्ति को कई बार लाभ की प्राप्ति भी होती है। हालांकि कुछ लोग ऐसे भी हैं जो ज्योतिष पर यकीन नहीं करते लेकिन यह बात पूरी तरह से सत्य है कि ज्योतिषशास्त्र को यदि ढंग से समझा जाए तो इसकी गणनाएं सटीक होती हैं, शायद इसीलिए इसको विज्ञान का दर्जा दिया जाता है। विवाह से पहले कुंडली मिलान से हम वर-वधु की कुंडली में ग्रह-नक्षत्रों की दशा और योग देखते हैं।

विवाह से पहले कुंडली मिलान का महत्व इसलिए बढ़ जाता है क्योंकि इससे पता चलता है कि वर-वधु के विवाह जीवन की गाड़ी कैसी चलेगी। लड़के और लड़की की कुंडली में ग्रह नक्षत्रों की अनुकूल स्थिति वैवाहिक जीवन को सुखमय बना देती है। अगर ऐसा नहीं होता तो जीवन कष्टमय हो जाता है। हालांकि आज के दौर में कई लोग कुंडली मिलान से ज्यादा दिलों के मिलने पर जोर देते हैं लेकिन कहीं न कहीं ज्योतिष की प्रसांगिता को देखते हुए लोग कंडली मिलान भी अवश्य करते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमारे तकनीकी विशेषज्ञों ने अनुभवी ज्योतिषियों की मदद से इस कुंडली मिलान कैलकुलटर को आपके लिए उपयोगी बनाया है।

ऐसे करें कुंडली मिलान कैलकुलेटर का इस्तेमाल

ज्यादातर यह देखा गया है कि लोग शादी से पहले किसी अनुभवी ज्योतिष के पास जाकर कुंडली मिलान कराते हैं। इस काम के लिए वर और वधु की जन्म तिथि, जन्म समय और जन्म स्थान के बारे में सही जानकारी होनी आवश्यक है। इसके बाद कुंडलियों का अध्ययन करके गुणों का मिलान किया जाता है। इन गुणों के आधार पर ही उनके भविष्य का आकलन लगाया जाता है।

जैसा कि हम सब जानते हैं विवाह को एक ऐसा बंधन माना जाता है जिसके जरिये समाज की संरचना होती है। शादी के बंधन में बंधने के बाद वर-वधु की जिंदगी का अच्छा होना आवश्यक है क्योंकि वो एक परिवार का निर्माण करते हैं जोकि समाज की एक महत्वपूर्ण इकाई है। यदि परिवार अच्छा होगा तो समाज भी अच्छा होगा। इसलिए शादी होने से पहले किसी कुशल ज्योतिष से कुंडलियों का मिलान किया जाना अतिआवश्यक है। इसके लिए आप हमारे कंडली मिलान कैलकुलेटर का भी सहारा ले सकते हैं। इसके जरिये आप घर बैठे स्वयं ही कुंडलियों का मिलान कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक भी रुपया खर्च करने की जरुरत नहीं है। जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि हमारा कुंडली मिलान कैलकुलेटर अनुभवी ज्योतिषियों और तकनीकी क्षेत्र के जानकारों की मदद से बनाया गया है। इसके साथ ही इसे सैकड़ों लोगों पर टेस्ट करके आप लोगों के समक्ष लाया गया है। अत: हम कह सकते हैं कि यह पूरी तरह से विश्वसनीय है।

हम उम्मीद करते हैं कि हमारा ये कुंडली मिलान कैलकुलेटर आपके लिए उपयोगी साबित होगा। आप अपनी राय हमें नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी टिप्पणी के जरिये दे सकते हैं। हम आपके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

Big Horoscope 2017
Buy Today
Gemstones
Get gemstones Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com More
Yantras
Get yantras Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com More
Navagrah Yantras
Get Navagrah Yantras Yantra to pacify planets and have a happy life .. get from AstroSage.com More
Rudraksha
Get rudraksha Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com More
Today's Horoscope

Get your personalised horoscope based on your sign.

Select your Sign
Free Personalized Horoscope 2019
Reports